कोराना वायरस मरीज मिलने के बाद नागोर जिला कलक्टर दिनेश कुमार यादव ने दी जानकारियां।


नागौर (राजस्थान)।
                    नागोर के गावं बासनी गावं बेलिमा में कोरोना  का मरीज पॉजिटिव मिलने के बाद धारा 144 सीआरपीसी के तहत आज दोपहर डेढ़ बजे से कर्फ्यू लगा दिया गया है। कर्फ्यू के दौरान इस क्षेत्र में कोई भी व्यक्ति स्वतंत्र रूप से भ्रमण नहीं कर सकेगा। यदि कोई व्यक्ति निषेधाज्ञा का उल्लघंन करता है तो उसके विरूद्ध  भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188, 269, 270 एवं राजस्थान एपेडेमिक डिजिज एक्ट 1957 एवं सु-संगत विधिक प्रावधानों तहत कार्रवाई की जाएगी। 
      गावं बासनी बेलिमा में कर्फ्यू  के दौरान आवश्यक सेवाओं के लिए पूर्व में जारी किए गए पास, परमिट, अनुमति को तुरन्त  प्रभाव से निरस्त कर दिया गया। उक्त सख्त निषेधाज्ञा प्रभावी रहने के दौरान आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति के लिए विशेष पास, परमिट, अनुमति जारी करने के लिए उपखण्ड मजिस्ट्रेट नागौर को अधिकृत किया गया है।
           ग्राम बासनी में प्रातःकालीन समय में विभागीय वाहन द्वारा दूग्ध आपूर्ति की व्यवस्था प्रबंध संचालक, नागौर दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ लिमिटेड, नागौर तथा फल एवं सब्जी की व्यवस्था सचिव, कृषि उपज मंडी करेंगे। इसके अतिरिक्त ग्राम बासनी में महाप्रबंधक, दी नागौर उपभोक्ता होलसेल भण्डार लिमिटेड, नागौर द्वारा विभागीय मोबाइल वैन के माध्यम से ग्राम बासनी में आवश्यक दैनिक उपभोग, खाद्य/किराणा सामग्री की आपूर्ति किया जाना सुनिश्चित किया गया हैं।


टिप्पणियाँ
Popular posts
कोराना काल के कारण 48 वीं बार में 10वीं पास हुए 85 साल के शिवचरण यादव।
चित्र
कोविड से माता-पिता को खोने वाले बच्चों के लिये सीएलसी के निदेशक इंजीनियर श्रवण चोधरी द्वारा मुफ्त शिक्षा के साथ रहना व खाना देने की पहल की चारो तरफ प्रशंसा हो रही है।
शेखावाटी जनपद के तीनो जिलो के अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों की सक्रियता व विभाग की उदारता के चलते जनपद के अनेक प्रोजेक्ट के लिये अल्पसंख्यक मंत्रालय ने राशि स्वीकृत की।
सीकर सीमा क्षेत्र में धारा 144 लागू शुक्रवार सायं 5 बजे से सोमवार प्रातः 5 बजे तक जन अनुशासन वीकेड कर्फ्यू रहेगा लॉकडाउन के दौरान (अनुमत श्रेणी के अलावा) किसी भी स्थान पर 5 या 5 से अधिक व्यक्तियों का एकत्रित होना प्रतिबंधित रहेगा
आसमान छुती पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती किमतो के खिलाफ कांग्रेस ने राजस्थान मे प्रदर्शन किया।
चित्र