इस कोराना संकट मे सभी को मानवता को बचाने के लिये आपसी भेदभाव से ऊपर चठना होगा।


 जयपुर।
             मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी के प्रसार को रोकना आज एक बड़ी जंग है, जिसे सभी लोगों को मिलकर लड़ना हैै। पूरी मानवता को बचाने के लिए इस संघर्ष में सभी वर्गों और समुदायों को आपसी भेदभाव से ऊपर उठकर मानवता की सेवा के लिए साथ मिलकर काम करना होगा। कोरोना वायरस जाति या धर्म नहीं देखता, इसलिए हमें भी इस लड़ाई में जाति, धर्म या राजनीतिक विचारधारा की बात या इनके आधार पर भेद नहीं करना चाहिए। 
              जयपुर केे विधायकों के साथ मुख्यमंत्री ने कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा की। सोशल मीडिया पर संक्रमण को लेकर जाति-धर्म आधारित टिप्पणियों के बारे में कुछ विधायकों द्वारा उठाये गये सवालों पर कहा कि ऐसी टिप्पणियां उचित नहीं हैं, क्योंकि प्रदेश की सम्पूर्ण जनता इस गंभीर बीमारी के परिणामों को लेकर चिंतित है और इससे निपटने के लिए किए जा रहे प्रयासों में सकारात्मक भूमिका निभा रही है। 
         इस संकट के दौर में ग्राम सेवकों, नर्सों, अध्यापकों, आशा सहयोगनियों, पुलिस कार्मिकों से लेकर अधिकारियों तक सभी सेवा भाव से काम कर रहे हैं और सभी की भूमिका सराहनीय है। ऐसे में, मरीजों की जांच और इलाज तथा खाने के पैकेट बांटने जैसे कार्यों  में भी कोई भेदभाव नहीं हो सकता और ना ही होना चाहिए। प्रदेश सरकार राजस्थान में मरीजों की बढ़ रही संख्या पर चिंतित है और इससे निपटने के लिए सुविधाओं और संसाधनों के विस्तार की सम्पूर्ण योजना पर लगातार काम कर रही है।


टिप्पणियां
Popular posts
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
किसान नेता राकेश टिकेत पर हमले के खिलाफ राजस्थान के किसानों मे आक्रोश।
इमेज
राजस्थान मे ब्यूरोक्रेसी मे बडा फेरबदल -- सड़सठ भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के तबादले। - जाकीर हुसैन को श्रीगंगानगर जिला कलेक्टर के पद पर लगाया।
इमेज
इंशाअल्लाह सीकर से सर सैयद अहमद खां वाहिद चोहान जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से हमारे मध्य लोटकर फिर महिला शिक्षा को ऊंचाई देगे।
इमेज
राजस्थान मे उधोगों की सुगमता स्थापना तथा निवेश को बढावा देने की घोषणाओं पर अमल शुरू।