दिग्गज राजनेता प्रधान जी रामेश्वर महरिया का निधन,  आज पेतृक गावं कुदन में होगा अंतिम संस्कार।


सीकर।
             कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सहकारी वह पंचायत आंदोलन के प्रणेता श्री रामेश्वर लाल महरिया का गुरुवार की रात निधन हो गया। 89 वर्षीय महरिया लंबे समय से बीमार चल रहे थे, उनका अंतिम संस्कार आज उनके पैतृक गांव कूदन में किया जाएगा। कोरोना संक्रमण के कारण सार्वजनिक उठावना एवं नियमित बैठक नहीं रखी गई है।
            पूर्व मंत्री स्व.श्री रामदेव सिंह महरिया के अनुज श्री महरिया अपने पीछे भरा पूरा परिवार छोड़ कर गए हैं. उनके 3 पुत्र व दो पुत्रियों के अलावा पोत्र-पोत्रिया दोहते-दोहतियां भी है.
            श्री महरिया का लंबा राजनीतिक जीवन रहा. इस दौरान महरिया धोद पंचायत समिति के प्रथम प्रधान बने और लंबे समय तक इस पद पर रहें. इसके अलावा सीकर सहकारी बैंक, भूमि विकास बैंक व सीकर उपभोक्ता भंडार सहित कई सहकारी संस्थाओं के अध्यक्ष भी रहे। वे राजस्थान पॉल्युशन कंट्रोल बोर्ड के सदस्य भी रहे थे। पूर्व केंद्रीय राज्यमंत्री श्री सुभाष महरिया व पूर्व विधायक नंदकिशोर महरिया उनके भतीजे हैं. जो अभी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी हैं.


टिप्पणियां
Popular posts
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
कांग्रेस MLC दीपक सिंह ने विधायक निधि से दिए 10 लाख रुपये अमेठी के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में मास्क और सैनिटाइजर की समुचित व्यवस्था करने हेतु
इमेज
झूंझुनू मुस्लिम वेलफेयर फ्रंट ने सामूहिक विवाह सम्मेलन कराने का निर्णय लिया। - सामाजिक कार्यकर्ता तहसीन कुरैशी को तालीम फंड और सामूहिक विवाह सम्मेलन की जिम्मेदारी सोंपी।
इमेज
इंशाअल्लाह सीकर से सर सैयद अहमद खां वाहिद चोहान जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से हमारे मध्य लोटकर फिर महिला शिक्षा को ऊंचाई देगे।
इमेज
शाहनवाज सिद्दीकी मनिहार बिरादरी के जिलाध्यक्ष बने