बंद: कटक के केसरपुर में पुलिस दल पर हमला

भुवनेश्वर ,:: कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पूर्ण बंद का पालन करने और घरों में रहने की अपील कर रहे पुलिसकर्मियों पर कटक शहर में कुछ लोगों ने रविवार को कथिततौर पर पथराव किया और लाठी डंडों से हमला किया।


एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना की तस्वीरों को देखने के बाद कटक शहर से कम से कम 25 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।


कटक के पुलिस उपायुक्त अखिलेश्वर सिंह ने बताया कि घटना शहर के केसरपुर इलाके की है जहां शुक्रवार आठ बजे से 48 घंटे का बंद लागू है।


उन्होंने बताया कि एक मस्जिद के पास कुछ लोग बंद के आदेश का उल्लंघन करते घूमते पाए गए,जिसके बाद उन्हें घर जाने के लिए कहा गया। उन लोगों ने पुलिस के जवानों पर हमला कर दिया,जिसमें कुछ पुलिसकर्मी घायल हो गए।


उन्होंने बताया कि शरारती तत्वों को तितर-बितर कर दिया गया और कुछ को हिरासत में ले लिया गया।


उन्होंने बताया कि बाद में तलाश अभियान चला कर कुछ और लोगों को पकड़ा गया। बंद का उल्लंघन कर रहे कम से कम छह और लोगों को शहर के विभिन्न स्थानों से हिरासत में लिया गया है।


गौरतलब है कि कटक के अलावा राजधानी भुवनेश्वर और भद्रक शहर में शुक्रवार से 48घंटे का बंद लागू है। यह राज्य में संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए उठाए गए कठोर कदमों का हिस्सा है।


राज्य में अचानक संक्रमण के मामले बढ़ने के बाद प्रदेश सरकार ने यह कदम उठाया है।


टिप्पणियाँ
Popular posts
एसीबी सीकर चौकी ने लगातार दुसरे दिन कार्यवाही करके रिश्वत लेते दो भ्रष्टाचारी को अलग अलग मामलों मे रंगे हाथ गिरफ्तार किया।
चित्र
राजस्थान कांग्रेस मे हालात विस्फोटक स्थिति मे पहुंचते नजर आ रहे है।। - गहलोत-पायलट खेमे के मध्य जारी टकराव व एक दुसरे पर दवाब बनाने के चक्कर मे सरकार गिर भी सकती है
चित्र
कोरोना अवेयरनेस कैंप के साथ शिफा होमियोपैथी क्लिनिक की इब्तिदा
चित्र
राजस्थान मे मंत्रीमंडल विस्तार व राजनीतिक नियुक्तियों की सुगबुगाहट के मध्य दिग्गज किसान नेता पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी नारायण सिंह भी कुदे। जारी राजनीतिक घमासान के बीच चोधरी ने कहा कांग्रेस को सत्ता में लाने वाले कार्यकर्ताओं को सरकार में मिले जगह।
चित्र
राजस्थान मे तीसरा मजबूत विकल्प अगले आम चुनाव से पहले उभर सकता है। - मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा सेवानिवृत्त ब्यूरोक्रेट्स को लाभ के पदो पर लगातार नियुक्ति देने का सीलसीला बनाये रखने से इंतजार मे बैठे जनप्रतिनिधियों का सब्र जवाब देने लगा।
चित्र