तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामले, ग्रेटर नोएडा में एक और अस्पताल के लिए तैयारी

नोएडा, :: पश्चिम उत्तर प्रदेश के गौतमबुध नगर में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस मामलों से यहां अस्पतालो में बेड कम पड़ने लगे हैं और अब प्रशासन ने नए हॉस्पिटल बनाने की तैयारी शुरू कर दी है।


मुख्य चिकित्सा अधिकारी अनुराग भार्गव ने बताया कि कोरोना वायरस से पॉजिटिव पाए जाने वाले मरीजों को वर्तमान समय में ग्रेटर नोएडा की जिम्स हॉस्पिटल और नोएडा की चाइल्ड पीजीआई में रखने की व्यवस्था की गई है। भार्गव के अनुसार दोनों अस्पतालों को मिलाकर कुल 19 बेड उपलब्ध हैं, जबकि जिले में कोरोना वायरस के मरीज 23 हो चुके हैं, ऐसे यह जरूरी हो गया है कि प्रशासन जल्दी से जल्दी नए अस्पतालो का निर्माण करें।


उन्होंने बताया कि इसके लिए प्रशासन की तरफ से नए जगहो को चिन्हित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि यमुना एक्सप्रेसवे पर स्थित नोएडा इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी के मेडिकल कालेज की बिल्डिंग को उपयुक्त पाया गया है, जिसका अध्ययन करने के लिए डॉक्टरो और राज्य सरकार का एक प्रतिनिधिमंडल यहां का दौरा चुका है ।


उन्होंने कहा कि यहां अस्पताल को शुरू करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण उपकरण वेंटीलेटर की आवश्यकता है। उसकी व्यवस्था की जा रही है, इसके अलावा मरीजों के लिए बेड और अन्य जरूरी सामान शासन द्वारा उपलब्ध कराया जा रहा है।


उन्होंने कहा कि मरीजों के इलाज के लिए 50 बेड का हॉस्पिटल बनाने की स्थिति में कम से कम 200 डॉक्टरों की और 600 से 800 की संख्या में पैरामेडिकल स्टाफ की जरूरत होगी तभी वे 24 घंटे मरीजों का इलाज कर पाएंगे। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के संभावित मरीजों को वर्तमान में कोरंटाइन रखने के लिए ग्रेटर नोएडा के जीबीयू के एक हॉस्टल, सेक्टर-39 स्थित नया जिला अस्पताल और सेक्टर-30 स्थित शिशु अस्पताल में 600 से अधिक बिस्तरों का कोरंटाइन वार्ड बनाया गया है।


टिप्पणियां
Popular posts
डॉक्टर अब्दुल कलाम प्राथमिक विश्वविद्यालय एकेटीयू लखनऊ द्वारा कराई जा रही ऑफलाइन परीक्षा के विरोध में एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक आदित्य चौधरी ने सौपा ज्ञापन
इमेज
किसान महापंचायतों के बहाने कांग्रेस चारो उपचुनाव को साधना चाह रही है।
राजस्थान के चार विधानसभा उपचुनाव मे कांग्रेस का गहलोत-पायलट के मध्य का अंदरुनी झगड़ा नुकसान पहुंचायेगा। - मुस्लिम युवाओं की गहलोत सरकार से नाराजगी भी संकट खड़ा करेगी। - भाजपा उम्मीदवारों की घोषणा के बाद भाजपा की मजबूती का ठीक से आंकलन होगा।
आसाम-बंगाल आम चुनावो के साथ राजस्थान के होने वाले चार उपचुनावो के बाद गहलोत सरकार गिराने की फिर कोशिश हो सकती है! - पायलट समर्थक प्रदेश भर मे किसान महापंचायते आयोजित करके अपना जनसमर्थन बढा रहे है।
उर्दू तालीम और मदरसा तालीम की हिमायत में सुजानगढ़ मे आमसभा हुई। - गहलोत सरकार को ललकारते हुए उप चुनाव में कांग्रेस को हराने का हुआ प्रस्ताव पास ।
इमेज