सेंसेक्स में 500 अंकों से अधिक की तेजी, निफ्टी ने पार किया 11,300 का स्तर

मुंबई, :: दुनियाभर के शेयर बाजारों में तेजी के चलते बंबई शेयर बाजार के प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स में मंगलवार को शुरुआती कारोबार के दौरान 500 अंकों से अधिक की बढ़त देखने को मिली। दुनियाभर के नीति निर्माताओं ने भरोसा दिलाया है कि वे कोरोना वायरस के प्रकोप से आई आर्थिक गिरावट को कम करने के उपाय करेंगे। इससे बाजार की धारणा मजबूत हुई।


जी-7 देशों के वित्त मंत्री और केंद्रीय बैंक प्रमुख आज इस महामारी के प्रभाव को कम करने के संबंध में एक बैठक करेंगे।


तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 533.37 अंकों या 1.40 प्रतिशत की तेजी के साथ 38,677.39 अंकों पर कारोबार कर रहा था। इसी तरह एनएसई का निफ्टी 179.75 अंकों या 1.61 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,312.50 पर पहुंच गया।


इस दौरान सेंसेक्स में शामिल सभी शेयरों में तेजी का रुख रहा। सबसे ज्यादा बढ़ने वाले शेयरों में सन फार्मा, टाटा स्टील, रिलायंस इंडस्ट्रीज, हीरो मोटोकॉर्प, आईसीआईसीआई बैंक और एचसीएल टेक शामिल हैं।


पिछले सत्र में सेंसेक्स 153.27 अंकों या 0.40 प्रतिशत की गिरावट के साथ 38,144.02 पर और निफ्टी 69 अंकों या 0.62 प्रतिशत की गिरावट के साथ 11,132.75 पर बंद हुआ था।


कारोबारियों के मुताबिक वैश्विक बाजारों में तेजी का असर घरेलू बाजार की धारणा पर पड़ा और उम्मीद है कि जी-7 देशों के वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंक प्रमुखों के बीच बातचीत में कुछ सकारात्मक नतीजे निकलकर आएंगे।


शंघाई, हांगकांग, सियोल और टोक्यो में शेयर बाजार सुबह के सत्रों में मजबूती के साथ कारोबार कर रहे थे।


टिप्पणियां
Popular posts
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
किसान नेता राकेश टिकेत पर हमले के खिलाफ राजस्थान के किसानों मे आक्रोश।
इमेज
राजस्थान मे ब्यूरोक्रेसी मे बडा फेरबदल -- सड़सठ भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के तबादले। - जाकीर हुसैन को श्रीगंगानगर जिला कलेक्टर के पद पर लगाया।
इमेज
इंशाअल्लाह सीकर से सर सैयद अहमद खां वाहिद चोहान जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से हमारे मध्य लोटकर फिर महिला शिक्षा को ऊंचाई देगे।
इमेज
राजस्थान मे उधोगों की सुगमता स्थापना तथा निवेश को बढावा देने की घोषणाओं पर अमल शुरू।