सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

रेकी कर चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, नकदी और असलाह समेत 9 चोर गिरफ्तार

रामपुर के अजीम नगर थाना क्षेत्र में 4/5 मार्च की रात खौद चौकी के पास कार सवार बदमाशों द्वारा एक मकान में घुसकर चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया था जिसमें चोरों द्वारा लाखों का माल चुराया गया था चुराए गए माल में नकदी जेवरात व अन्य कीमती चीजें चोरी की गई थी इस मामले में पुलिस ने त्वरित टीम गठित कर चोरों की तलाश की और उनका घेराव कर 9 -अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। चोरों के पास से भारी मात्रा में असलाह बरामद हुआ है वही 2,45,000 रुपए की नगदी भी बरामद की गई है। चोरों के दो अन्य साथी अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर हैं जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस प्रयास कर रही है।

इस संबंध में क्षेत्राधिकारी बी.पी.सिंह ने बताया 4/ 5 मार्च की रात में सलामत जान के यहां जो खौद के रहने वाले हैं उनके यहां बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया था और उसके संबंध में हमारे थाना अजीम नगर के प्रभारी और एसओजी टीम ने मिलकर मुखबिर की सूचना पर प्राप्त जानकारी से रात में बदमाशों की गाड़ी का पीछा कर रहे थे तभी बदमाशों ने जान से मारने की नियत से फायर किया पुलिस ने उन्हें ललकार कर घेराबंदी कर पकड़ लिया जिसमें 9 लोग पकड़े गए हैं उनके पास 6 तमंचे और एक बंदूक चोरी के दौरान जो पैसा और जेवर गया था उसमें से नकद 2,45,000 बरामद हुए हैं कुछ जेवर इन्होंने बेच दिया है और कुछ जेवर अभी दो बदमाशों के पास है जो फरार हैं जिनके गिरफ्तारी में पुलिस प्रयास कर रही है बदमाशों के खिलाफ मुकदमा लिख कर वैधानिक कार्रवाई की जा रही है जेल भेजा जा रहा है।

पकड़े गए बदमाशों में तीन बदमाश ऐसे हैं जिनके खिलाफ काफी मुकदमे हैं दिल्ली के एक बदमाश पर 60 मुकदमे हैं रामपुर के गंज थाना क्षेत्र के एक बदमाश पर एक दर्जन मुकदमे हैं इसके अलावा बिलारी क्षेत्र के एक हिस्ट्रीशीटर पर भी दर्जनों मुकदमे हैं। यह रेकी कर घटना को अंजाम देते थे इस घटना में भी पहले रैकी की गई है उसके बाद घटना को अंजाम दिया गया है।

इसके अलावा पकड़े गए बदमाशों में फैसल नाम के एक बदमाश का नाम प्रकाश में आया है जो दिल्ली में हुए दंगों में शामिल रहा है इस संबंध में दिल्ली पुलिस से संपर्क करके तस्दीक किया जा रहा है वैधानिक कार्रवाई करने के लिए जल्द ही इसका निर्णय ले लेंगे। अन्य दो बदमाशों को पकड़ने का प्रयास कर रहे हैं जिनसे माल की रिकवरी की जाएगी। पुलिस अधीक्षक रामपुर द्वारा इस मामले में गठित पुलिस टीम को ₹20000 का इनाम देने की घोषणा की गई है साथ ही प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया जाएगा।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वक्फबोर्ड चैयरमैन डा.खानू की कोशिशों से अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये जमीन आवंटन का आदेश जारी।

         ।अशफाक कायमखानी। चूरु।राजस्थान।              राज्य सरकार द्वारा चूरु शहर स्थित अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये बजट आवंटित होने के बावजूद जमीन नही होने के कारण निर्माण का मामला काफी दिनो से अटके रहने के बाद डा.खानू खान की कोशिशों से जमीन आवंटन का आदेश जारी होने से चारो तरफ खुशी का आलम देखा जा रहा है।            स्थानीय नगरपरिषद ने जमीन आवंटन का प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजकर जमीन आवंटन करने का अनुरोध किया था। लेकिन राज्य सरकार द्वारा कार्यवाही मे देरी होने पर स्थानीय लोगो ने धरने प्रदर्शन किया था। उक्त लोगो ने वक्फ बोर्ड चैयरमैन डा.खानू खान से परिषद के प्रस्ताव को मंजूर करवा कर आदेश जारी करने का अनुरोध किया था। डा.खानू खान ने तत्परता दिखाते हुये भागदौड़ करके सरकार से जमीन आवंटन का आदेश आज जारी करवाने पर क्षेत्रवासी उनका आभार व्यक्त कर रहे है।  

नूआ का मुस्लिम परिवार जिसमे एक दर्जन से अधिक अधिकारी बने। तो झाड़ोद का दूसरा परिवार जिसमे अधिकारियों की लम्बी कतार

              ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।             राजस्थान मे खासतौर पर देहाती परिवेश मे रहकर फौज-पुलिस व अन्य सेवाओं मे रहने के अलावा खेती पर निर्भर मुस्लिम समुदाय की कायमखानी बिरादरी के झूंझुनू जिले के नूआ व नागौर जिले के झाड़ोद गावं के दो परिवारों मे बडी तादाद मे अधिकारी देकर वतन की खिदमत अंजाम दे रहे है।            नूआ गावं के मरहूम लियाकत अली व झाड़ोद के जस्टिस भंवरु खा के परिवार को लम्बे अर्शे से अधिकारियो की खान के तौर पर प्रदेश मे पहचाना जाता है। जस्टिस भंवरु खा स्वयं राजस्थान के निवासी के तौर पर पहले न्यायीक सेवा मे चयनित होने वाले मुस्लिम थे। जो बाद मे राजस्थान हाईकोर्ट के जस्टिस पद से सेवानिवृत्त हुये। उनके दादा कप्तान महमदू खा रियासत काल मे केप्टन व पीता बक्सू खां पुलिस के आला अधिकारी से सेवानिवृत्त हुये। भंवरु के चाचा पुलिस अधिकारी सहित विभिन्न विभागों मे अधिकारी रहे। इनके भाई बहादुर खा व बख्तावर खान राजस्थान पुलिस सेवा के अधिकारी रहे है। जस्टिस भंवरु के पुत्र इकबाल खान व पूत्र वधु रश्मि वर्तमान मे भारतीय प्रशासनिक सेवा के IAS अधिकारी है।              इसी तरह नूआ गावं के मरह

पत्रकारिता क्षेत्र मे सीकर के युवा पत्रकारों का दैनिक भास्कर मे बढता दबदबा। - दैनिक भास्कर के राजस्थान प्रमुख सहित अनेक स्थानीय सम्पादक सीकर से तालूक रखते है।

                                         सीकर। ।अशफाक कायमखानी।  भारत मे स्वच्छ व निष्पक्ष पत्रकारिता जगत मे लक्ष्मनगढ निवासी द्वारा अच्छा नाम कमाने वाले हाल दिल्ली निवासी अनिल चमड़िया सहित कुछ ऐसे पत्रकार क्षेत्र से रहे व है। जिनकी पत्रकारिता को सलाम किया जा सकता है। लेकिन पिछले कुछ दिनो मे सीकर के तीन युवा पत्रकारों ने भास्कर समुह मे काम करते हुये जो अपने क्षेत्र मे ऊंचाई पाई है।उस ऊंचाई ने सीकर का नाम ऊंचा कर दिया है।         इंदौर से प्रकाशित  दैनिक भास्कर के प्रमुख संस्करण के सम्पादक रहने के अलावा जयपुर सीटी भास्कर व शिमला मे भास्कर के सम्पादक रहे सीकर शहर निवासी मुकेश माथुर आजकल दैनिक भास्कर के जयपुर मे राजस्थान प्रमुख है।                 दैनिक भास्कर के सीकर दफ्तर मे पत्रकारिता करते हुये उनकी स्वच्छ व निष्पक्ष पत्रकारिता का लोहा मानते हुये जिले के सुरेंद्र चोधरी को भास्कर प्रबंधक ने उन्हें भीलवाड़ा संस्करण का सम्पादक बनाया था। जिन्होंने भीलवाड़ा जाकर पत्रकारिता को काफी बुलंदी पर पहुंचाया है।                 फतेहपुर तहसील के गावं से निकल कर सीकर शहर मे रहकर सुरेंद्र चोधरी के पत्रका