पुलिस ने एक अ्प्रैल को अफवाह न फैलाने को कहा

औरंगाबाद,  :: महाराष्ट्र में औरंगाबाद पुलिस ने लोगों को ‘अप्रैल फूल डे’ पर सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस को लेकर अफवाह फैलाने या किसी तरह की शरारत (प्रैंक) करने के खिलाफ आगाह किया है।


पुलिस उपायुक्त मीणा मकवाना ने कहा कि व्हाट्सएप ग्रुप एडमिन और मोबाइल मैसेजिंग ऐप पर ऐसे संदेश पोस्ट करने वाले सदस्य के खिलाफ मामले दर्ज किए जाएंगे।


अधिकारी ने कहा, ‘‘ कई लोग एक अप्रैल को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ शरारत (प्रैंक) करते हैं। नागरिकों से कोरोना वायरस को लेकर कोई मजाक ना करने को कहा गया है। ऐसे संदेश भ्रम पैदा कर सकते हैं।’’


उन्होंने कहा, ‘‘ अगर ऐसे संदेश व्हाट्सएप पर मिले तो संदेश साझा करने वाले और उस ग्रुप के एडमिन के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा।’’


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
बेरीस्टर असदुद्दीन आवेसी को महेश जोशी द्वारा भाजपा ऐजेंट बताने की कायमखानी ने कड़ी निंदा की।
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
मुस्लिम समुदाय की नाराजगी से राजस्थान के पंचायत चुनाव मे कांग्रेस को मुश्किलातों का सामना करना पड़ सकता है।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र