सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

प्रवासी भारतियों की सुविधा के लिए जल्द ही एक सरल और आकर्षक वेबसाईट होगी शुरू

लखनऊ :: उत्तर प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन, एनआरआई, खादी एवं ग्रामोद्योग, रेशम उद्योग, वस्त्र उद्योग तथा निवेश प्रोत्साहन मंत्री श्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि नये उत्तर प्रदेश के लिए एन0आर0आई0 विभाग नये कलेवर के साथ प्रवासी भारतियों को आकर्षित करेगा। इसके लिए शीघ्र ही प्रवासी भारतियों की सुविधा हेतु एक सरल और आकर्षक वेबसाइट शुरू की जायेगी। इस वेबसाइट को हिन्दी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में तैयार कराया जा रहा है। दिव्यांगजन भी इसका आसानी से इस्तेमाल कर सकेंगे। साथ ही प्रदेश के प्रमुख विभागों पर्यटन, हेल्थ टूरिज्म, शिक्षा, ओ0डी0ओ0पी0 तथा निवेश को सीधे इससे लिंक दिया जायेगा। उन्होंने आगामी 15 अप्रैल तक वेबसाइट के निर्माण का कार्य पूर्ण कराने के निर्देश अधिकारियों को दिये। इसके अतिरिक्त उन्होंने वेबसाइट के संचालन हेतु प्रोजेक्ट मानीटरिंग यूनिट (पीएमयू) गठित करने के भी निर्देश दिए हैं।
      श्री सिंह आज अपने कार्यालय कक्ष में यूपीडेस्को द्वारा तैयार की जा रही प्रवासी भारतीय विभाग की वेबसाइट का अवलोकन कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वेबसाइट में एनआरआई का डाटा एकत्रित कराने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी से भारतीय प्रवासी, प्रवासी एसोसिएशन के अध्यक्ष तथा सभी एम्बेसडर को पत्र भेजने का अनुरोध किया जायेगा। उन्होंने यह भी कहा कि यह वेबसाइट आसानी से लोगों तक पहुंचे, इसके लिए ख्याति प्राप्त सर्च इंजन गूगल, याहू आदि पर लिंक डलवाया जायेगा। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के एनआरआई विभाग में पहले तीन प्रकार की वेबसाइट प्रचलन में थी। प्रवासी भारतीयों की सुविधा का ख्याल रखते हुए इसको एकीकृत रूप दिया जा रहा है। इससे एनआरआई एक ही प्लेटफार्म पर तमाम प्रकार की जानकारियां एवं सेवाएं प्राप्त कर सकेंगे।
      एन0आर0आई0 मंत्री ने कहा कि यह वेबसाइट यूनीफाइड सिस्टम के तहत कार्य करेगी और समय-समय पर इसका सिक्यूरिटी आडिट भी कराया जायेगा। रजिस्टेªशन के लिए ईमेल से लिंक की सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी। इसके माध्यम से प्रवासी भारतीयों को रजिस्ट्रेशन/वेरीफिकेशन एवं नवीनीकरण की सहूलियत मिलेगी। इसके तहत प्रवासी भारतीयों के लिए यू0पी0 एन0आर0आई0 कार्ड की सुविधा दी जायेगी। साथ ही पेमेंट की आॅनलाइन सुविधा भी उपलब्ध कराई जायेगी। इस कार्ड के माध्यम से एनआरआई को पर्यटन स्थलों पर भ्रमण, निवेश आदि की सुविधा उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि प्रवासी भारतीय एनआरआई दिवस में शामिल होने तथा प्रवासी रत्न पुरस्कार के लिए भी वेबसाइट पर आवेदन कर सकेंगे।
      श्री ंिसंह ने कहा कि नई वेबसाइट पर जाॅब सीकर (रोजगार के इच्छुक) व्यक्तियों के लिए रजिस्ट्रेशन की सुविधा होगी। ई-माईग्रेट वेरीफिकेशन भी कराया जायेगा। एनआरआई को आॅनलाइन चैट की व्यवस्था भी दी जायेगी। सोशल मीडिया जैसे व्हाट्सअप, फेसबुक, ट्विटर आदि को इससे जोड़ा जायेगा। प्रदेश सरकार द्वारा निवेश को आसान बनाने के लिए लागू की गई सभी नीतियों को इस पर अपलोड किया जायेगा। उन्होंने यह भी कहा कि वेबसाइट पर एक्सप्रेस-वे की जानकारी भी उपलब्ध रहेगी।
      प्रजेंटेशन के दौरान भारत सरकार के मिनिस्ट्री आॅफ इन्टरनल अफेयर के उच्चाधिकारी सहित एनआरआई विभाग के प्रमुख सचिव श्री आलोक कुमार एवं विभागीय अधिकारी मौजूद थे।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वक्फबोर्ड चैयरमैन डा.खानू की कोशिशों से अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये जमीन आवंटन का आदेश जारी।

         ।अशफाक कायमखानी। चूरु।राजस्थान।              राज्य सरकार द्वारा चूरु शहर स्थित अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये बजट आवंटित होने के बावजूद जमीन नही होने के कारण निर्माण का मामला काफी दिनो से अटके रहने के बाद डा.खानू खान की कोशिशों से जमीन आवंटन का आदेश जारी होने से चारो तरफ खुशी का आलम देखा जा रहा है।            स्थानीय नगरपरिषद ने जमीन आवंटन का प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजकर जमीन आवंटन करने का अनुरोध किया था। लेकिन राज्य सरकार द्वारा कार्यवाही मे देरी होने पर स्थानीय लोगो ने धरने प्रदर्शन किया था। उक्त लोगो ने वक्फ बोर्ड चैयरमैन डा.खानू खान से परिषद के प्रस्ताव को मंजूर करवा कर आदेश जारी करने का अनुरोध किया था। डा.खानू खान ने तत्परता दिखाते हुये भागदौड़ करके सरकार से जमीन आवंटन का आदेश आज जारी करवाने पर क्षेत्रवासी उनका आभार व्यक्त कर रहे है।  

नूआ का मुस्लिम परिवार जिसमे एक दर्जन से अधिक अधिकारी बने। तो झाड़ोद का दूसरा परिवार जिसमे अधिकारियों की लम्बी कतार

              ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।             राजस्थान मे खासतौर पर देहाती परिवेश मे रहकर फौज-पुलिस व अन्य सेवाओं मे रहने के अलावा खेती पर निर्भर मुस्लिम समुदाय की कायमखानी बिरादरी के झूंझुनू जिले के नूआ व नागौर जिले के झाड़ोद गावं के दो परिवारों मे बडी तादाद मे अधिकारी देकर वतन की खिदमत अंजाम दे रहे है।            नूआ गावं के मरहूम लियाकत अली व झाड़ोद के जस्टिस भंवरु खा के परिवार को लम्बे अर्शे से अधिकारियो की खान के तौर पर प्रदेश मे पहचाना जाता है। जस्टिस भंवरु खा स्वयं राजस्थान के निवासी के तौर पर पहले न्यायीक सेवा मे चयनित होने वाले मुस्लिम थे। जो बाद मे राजस्थान हाईकोर्ट के जस्टिस पद से सेवानिवृत्त हुये। उनके दादा कप्तान महमदू खा रियासत काल मे केप्टन व पीता बक्सू खां पुलिस के आला अधिकारी से सेवानिवृत्त हुये। भंवरु के चाचा पुलिस अधिकारी सहित विभिन्न विभागों मे अधिकारी रहे। इनके भाई बहादुर खा व बख्तावर खान राजस्थान पुलिस सेवा के अधिकारी रहे है। जस्टिस भंवरु के पुत्र इकबाल खान व पूत्र वधु रश्मि वर्तमान मे भारतीय प्रशासनिक सेवा के IAS अधिकारी है।              इसी तरह नूआ गावं के मरह

लखनऊ - लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले लोगों की हुई पहचान। चार लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

       लखनऊ - लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले लोगों की हुई पहचान। चार लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार। 9 में से 4 लोग को पुलिस ने किया गिरफ्तार। सीसीटीवी और सर्विलांस के जरिए उन तक पहुंची पुलिस। नमाज अदा करने वालों में मोहम्मद रेहान पुत्र मोहम्मद रिजवान निवासी खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर , लखनऊ। दूसरा आतिफ खान पुत्र मोहम्मद मतीन खान थाना मोहम्मदी जिला लखीमपुर मौजूदा पता खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। तीसरा मोहम्मद लुकमान पुत्र मनसूर अली मूल पता लहरपुर सीतापुर हाल पता अबरार नगर खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। मोहम्मद नोमान निवासी लहरपुर सीतापुर हाल पता अबरार नगर खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। पकड़े गए चार लड़कों में सीतापुर के रहने वाले दोनों सगे भाई निकले। लखनऊ में एक ही मोहल्ले में रहने वाले चारों लड़कों ने  पढ़ी थी लुलु मॉल में एक साथ जाकर नमाज।    अबरार नगर, खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर के रहने वाले हैं चारों लड़के। सुशांत गोल्फ सिटी पुलिस ने लूलू मॉल में बिना अनुमति नमाज पढ़ने वालों को किया गिरफ्तार।।