फरीदाबाद में 751 व्यक्ति निगरानी में

फरीदाबाद,::  फरीदाबाद के जिला उपायुक्त यशपाल यादव ने बताया कि जिले में कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से अलर्ट है तथा जिले में अब तक 751 यात्रियों को निगरानी में लिया जा चुका है।


उन्होंने बताया कि जिले में अब तक 751 यात्रियों को निगरानी में लिया गया है। इसमें से 98 लोगों को निगरानी में रखने की 28 दिन की अवधि पूरी हो चुकी है। शेष 653 लोग निगरानी में हैं।


उन्होंने बताया कि निगरानी में रखे गए लोगों में से 750 घर पर पृथक रखे गए हैं। उन्होंने बताया कि अब तक 72 लोगों के नमूने लैब में भेजे गए हैं जिनमें से 56 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 15 की रिपोर्ट आनी शेष है। हॉस्पिटल में दाखिल दो व्यक्तियों में से ठीक होने के बाद एक को हॉस्पिटल से छुट्टी दे दी गई है।


उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की ओर से किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिए जिले में सरकारी व निजी अस्पतालों में 34 पृथक वार्ड बनाए गए हैं, जिनमें 1040 बेड की क्षमता है।


उन्होंने बताया कि कोविड-19 के संदिग्ध व पुष्ट मामलों के परिवहन के लिए सभी सुविधाओं से युक्त दो एम्बुलेंस तैयार की गई हैं। जिला स्तर पर सभी मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित किया गया है।


टिप्पणियां
Popular posts
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
राजस्थान मे एआईएमआईएम की दस्तक से राजनीतिक हलचल बढी। कांग्रेस से जुड़े नेताओं मे बेचैनी। - उपचुनाव मे एआईएमआईएम के गठबंधन के उम्मीदवार खड़े करने को लेकर कयास लगने लगे।
इमेज
एल पी एस निदेशक नेहा सिंह व हर्षित सिंह सम्मानित किये गये
इमेज
सांसद असदुद्दीन आवेसी की एआईएमआईएम व पोपुलर फ्रंट के प्रभाव से मुकाबले को लेकर कांग्रेस ने राजस्थान मे अपनी मुस्लिम लीडरशिप व संस्थाओं को आगे किया।
राजस्थान वक्फ बोर्ड का आठ मार्च को कार्यकाल पूरा होने को है, लेकिन सदस्यों के लिये चुनावी प्रक्रिया अभी शुरु नही हुई। - नये चुनाव के लिये सरकारी स्तर पर हलचल पर प्रशासक लगने के चांसेज अधिक बताये जा रहे है।
इमेज