सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

कोरोना वायरस: भारतीय दूतावास ने यात्रा पाबंदियों पर जानकारी देने के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए

वाशिंगटन,:: अमेरिका में भारतीय दूतावास ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए नयी दिल्ली द्वारा हाल ही में लागू की गई यात्रा पाबंदियों पर सवालों का जवाब देने के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं जिन पर चौबीसों घंटे संपर्क किया जा सकता है।


भारत में कोरोना वायरस से बृहस्पतिवार को पहली मौत हुई और इससे संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 74 पर पहुंच गई है। चीन के वुहान शहर से शुरू हुए इस जानलेवा वायरस से दुनियाभर में 4,600 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और 1,24,330 से अधिक लोग इससे संक्रमित हैं।


दूतावास ने एक बयान में कहा कि उसने ‘‘ कोरोना वायरस फैलने के मद्देनजर भारत की यात्रा के लिए भारत सरकार द्वारा हाल ही में जारी यात्रा परामर्श के संबंध में सवालों का जवाब देने के लिए’’ हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं जिन पर चौबीसों घंटे संपर्क किया जा सकता है।


ये हेल्पलाइन नंबर वाशिंगटन डीसी के दूतावास तथा अटलांटा, शिकागो, न्यूयॉर्क, ह्यूस्टन और सैन फ्रांसिस्को के वाणिज्य दूतावासों से चलाए जा रहे हैं।


भारत ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए राजनयिक और कामकाजी जैसी चुनिंदा श्रेणियों को छोड़कर 15 अप्रैल तक सभी वीजा निलंबित कर दिए हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी कोविड-19 को महामारी घोषित कर दिया है।


भारत द्वारा यह निलंबन 13 मार्च को अंतरराष्ट्रीय समयानुसार दोपहर 12 बजे से प्रभावी होगा।


एक आधिकारिक बयान में बुधवार को कहा गया, ‘‘ राजनयिक, आधिकारिक, संयुक्त राष्ट्र/ अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं, कामकाजी और प्रोजेक्ट वीजा के अलावा सभी मौजूदा वीजा 15 अप्रैल, 2020 तक निलंबित किए जाते हैं। यह 13 मार्च, 2020 को अंतरराष्ट्रीय समयानुसार दोपहर 12 बजे से सभी प्रस्थान बिन्दुओं पर प्रभावी होगा।’’


ओसीआई कार्डधारकों को प्राप्त वीजा मुक्त यात्रा की सुविधा भी 15 अप्रैल तक के लिए रोक दी गयी है।


दूतावास ने बयान में कहा कि हेल्पलाइन नंबर 202-213-1364 और 202-262-0375 पर बरमुडा, डेलवेयर, डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलंबिया, केंटुकी, मैरीलैंड, नॉर्थ कैरोलिना, वर्जीनिया और वेस्ट वर्जीनिया के लोग संपर्क कर सकते हैं।


इन राज्यों में रहने वाले लोग cons4.washington@mea.gov.in पर भी दूतावास से संपर्क कर सकते हैं।


अलबामा, फ्लोरिडा, जॉर्जिया, मिसिसिपी, प्युर्तो रिको, साउथ कैरोलाइना, टेनेसी और वर्जिन आइलैंड के लोग हेल्पलाइन नंबर 404-910-7919 और 404-924-9876 तथा ईमेल आईडी cons-atlanta@mea.gov.in पर संपर्क कर सकते हैं।


इलिनोइस, इंडियाना, आयोवा, मिशिगन, मिनेसोटा, मिसूरी, नॉर्थ डकोटा, साउथ डकोटा तथा विस्कोंसिन में रहने वाले लोग हेल्पलाइन नंबर 312-687-3642 और 312-468-3276 या ईमेल आईडी visa-chicago@mea.gov.in पर संपर्क कर सकते हैं।


अरकंसास, कंसास, लुइसियाना, ओकलाहोमा, टेक्सास, न्यू मैक्सिको, कोलराडो तथा नेब्रास्का के लिए जारी हेल्पलाइन नंबर 713-626-2149 तथा ईमेल आईडी enquiriescgi@swbell.net है।


न्यूयॉर्क वाणिज्य दूतावास ने कनेक्टिकट, मेन, मैसाच्युसेट्स, न्यू हैम्पशायर, न्यू जर्सी, न्यूयॉर्क, ओहियो, पेन्सिलवेनिया, रोड आइलैंड तथा वर्मोन्ट राज्यों के लिए हेल्पलाइन नंबर 347-721-9243 और 212-774-0607 तथा ईमेल आईडी visa.newyork@mea-gov जारी की है।


अलास्का, एरीजोना, कैलिफोर्निया, गुआम, हवाई, इदाहो, मोंटाना, नवादा, ओरेगन, उटाह,, वाशिंगटन तथा व्योमिंग के लोग 415-483-6629 पर फोन कर सकते हैं या ईमेल आईडी oci2.sf@mea.gov.in पर संपर्क कर सकते हैं।


सरकार ने भारतीयों को गैर जरूरी विदेश यात्रा ना करने की सलाह भी दी है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वक्फबोर्ड चैयरमैन डा.खानू की कोशिशों से अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये जमीन आवंटन का आदेश जारी।

         ।अशफाक कायमखानी। चूरु।राजस्थान।              राज्य सरकार द्वारा चूरु शहर स्थित अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये बजट आवंटित होने के बावजूद जमीन नही होने के कारण निर्माण का मामला काफी दिनो से अटके रहने के बाद डा.खानू खान की कोशिशों से जमीन आवंटन का आदेश जारी होने से चारो तरफ खुशी का आलम देखा जा रहा है।            स्थानीय नगरपरिषद ने जमीन आवंटन का प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजकर जमीन आवंटन करने का अनुरोध किया था। लेकिन राज्य सरकार द्वारा कार्यवाही मे देरी होने पर स्थानीय लोगो ने धरने प्रदर्शन किया था। उक्त लोगो ने वक्फ बोर्ड चैयरमैन डा.खानू खान से परिषद के प्रस्ताव को मंजूर करवा कर आदेश जारी करने का अनुरोध किया था। डा.खानू खान ने तत्परता दिखाते हुये भागदौड़ करके सरकार से जमीन आवंटन का आदेश आज जारी करवाने पर क्षेत्रवासी उनका आभार व्यक्त कर रहे है।  

लखनऊ - लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले लोगों की हुई पहचान। चार लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

       लखनऊ - लुलु मॉल में नमाज पढ़ने वाले लोगों की हुई पहचान। चार लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार। 9 में से 4 लोग को पुलिस ने किया गिरफ्तार। सीसीटीवी और सर्विलांस के जरिए उन तक पहुंची पुलिस। नमाज अदा करने वालों में मोहम्मद रेहान पुत्र मोहम्मद रिजवान निवासी खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर , लखनऊ। दूसरा आतिफ खान पुत्र मोहम्मद मतीन खान थाना मोहम्मदी जिला लखीमपुर मौजूदा पता खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। तीसरा मोहम्मद लुकमान पुत्र मनसूर अली मूल पता लहरपुर सीतापुर हाल पता अबरार नगर खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। मोहम्मद नोमान निवासी लहरपुर सीतापुर हाल पता अबरार नगर खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर लखनऊ। पकड़े गए चार लड़कों में सीतापुर के रहने वाले दोनों सगे भाई निकले। लखनऊ में एक ही मोहल्ले में रहने वाले चारों लड़कों ने  पढ़ी थी लुलु मॉल में एक साथ जाकर नमाज।    अबरार नगर, खुर्रम नगर थाना इंदिरा नगर के रहने वाले हैं चारों लड़के। सुशांत गोल्फ सिटी पुलिस ने लूलू मॉल में बिना अनुमति नमाज पढ़ने वालों को किया गिरफ्तार।।  

नूआ का मुस्लिम परिवार जिसमे एक दर्जन से अधिक अधिकारी बने। तो झाड़ोद का दूसरा परिवार जिसमे अधिकारियों की लम्बी कतार

              ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।             राजस्थान मे खासतौर पर देहाती परिवेश मे रहकर फौज-पुलिस व अन्य सेवाओं मे रहने के अलावा खेती पर निर्भर मुस्लिम समुदाय की कायमखानी बिरादरी के झूंझुनू जिले के नूआ व नागौर जिले के झाड़ोद गावं के दो परिवारों मे बडी तादाद मे अधिकारी देकर वतन की खिदमत अंजाम दे रहे है।            नूआ गावं के मरहूम लियाकत अली व झाड़ोद के जस्टिस भंवरु खा के परिवार को लम्बे अर्शे से अधिकारियो की खान के तौर पर प्रदेश मे पहचाना जाता है। जस्टिस भंवरु खा स्वयं राजस्थान के निवासी के तौर पर पहले न्यायीक सेवा मे चयनित होने वाले मुस्लिम थे। जो बाद मे राजस्थान हाईकोर्ट के जस्टिस पद से सेवानिवृत्त हुये। उनके दादा कप्तान महमदू खा रियासत काल मे केप्टन व पीता बक्सू खां पुलिस के आला अधिकारी से सेवानिवृत्त हुये। भंवरु के चाचा पुलिस अधिकारी सहित विभिन्न विभागों मे अधिकारी रहे। इनके भाई बहादुर खा व बख्तावर खान राजस्थान पुलिस सेवा के अधिकारी रहे है। जस्टिस भंवरु के पुत्र इकबाल खान व पूत्र वधु रश्मि वर्तमान मे भारतीय प्रशासनिक सेवा के IAS अधिकारी है।              इसी तरह नूआ गावं के मरह