जनता कर्फ्यू: गुजरात में पसरा सन्नाटा

अहमदाबाद,  :: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनता कर्फ्यू की अपील को रविवार को गुजरात में अच्छी प्रतिक्रिया मिली। समूचे राज्य ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए खुद को घरों में बंद कर लिया।


सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा और दुकानें बंद रहीं।


राज्य के चार प्रमुख शहरों - अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा और राजकोट- में सड़कों, रेलवे स्टेशनों और हवाई अड्डों पर रविवार सुबह सन्नाटा छाया रहा।


अहमदाबाद में लोग अपने घरों में ही रहे और आवासीय सोसाइटी से मुश्किल से ही किसी को निकलते देखा गया।


एसजी राजमार्ग और एसपी रिंग रोड जैसी अहमदाबाद की सभी प्रमुख सड़कें सुनसान रहीं। यही हाल कालूपुर फल बाजार का भी था, जहां आमतौर पर सुबह में भीड़ होती है।


राज्य में सरकारी बसों की सेवा बंद रही। अहमदाबाद मेट्रो की सेवा को भी बंद किया गया है।


गुजरात में कोरोना वायरस के अब तक 14 मामले दर्ज हुए हैं।


गुजरात सरकार ने शनिवार को अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा और राजकोट में आंशिक रूप से लॉकडाउन की घोषणा की और गैर-जरूरी सामान की सभी दुकानों को 25 मार्च तक बंद रखने का निर्देश दिया।


टिप्पणियां
Popular posts
युवा पार्षद व भामाशाह अनवर कुरैशी ने नवाब कायम खां यूनानी अस्पताल को गोद लेकर शुरू किया कोविड सेंटर के लिए कार्य
इमेज
सिकंदर खान ने पहले देश के लिए बॉर्डर पर अपनी सेवा दी अब लगे हुए हैं कोरोना मरीज़ों को ऑक्सिजन सिलेंडर की मुफ़्त सेवा देने में।
इमेज
शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा के ट्वीट से बवाल लोगो मे ट्वीट मे दी गई जानकारी को लेकर नाराजगी।
इमेज
आक्सीजन प्लांट के लिये खीचड़ परिवार ने पांच लाख व रंगरेज समाज ने दो लाख का चैक कलेक्टर को सौंपा।
इमेज
सीकर शहर मे इसी महीने आक्सीजन प्लांट लगकर आक्सीजन हकी आपूर्ति करने लगेगा।
इमेज