भाजपा सरकार समाजवादी सरकार के समय भोजन के लिए वितरित किये गये ‘‘समाजवादी राहत पैकेट‘‘ को बांटने का निर्देश जिलाधिकारियों को जारी करें

लखनऊ :: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री  अखिलेश यादव ने कहा है कि कोरोना वायरस की महामारी की वजह से देश में अचानक से लाॅकडाउन लागू है। प्रदेश की सड़कों पर लाखों लोग भूंखे-प्यांसे हैं। आपूर्ति संकट से जनता परेशान है। इन हालात में सत्तादल की जिम्मेदारी जहां ज्यादा है वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्य विपक्षी दल के रूप में समाजवादी पार्टी जनता के दुःखदर्दो के प्रति पूर्णतयः संवेदनशील है और गरीबों, असहायों की मदद में इसके वरिष्ठ नेता, सांसद, विधायक तथा कार्यकर्ता दिनरात सक्रिय हैं। उन्होंने अपना आर्थिक सहयोग भी दिया है।
     अचानक पलायन की भारी भीड़ और गरीबों की मुसीबतों को देखते हुए हमारा सुझाव है कि भाजपा सरकार समाजवादी सरकार के समय भोजन के लिए वितरित किये गये ‘‘समाजवादी राहत पैकेट‘‘ को बांटने का निर्देश जिलाधिकारियों को जारी करें जिसके नियम भी बने हुए है, चाहे तो नाम बदल दें। सभी खड़ी ट्रेनों को अगले कुछ दिनों के लिए अस्थायी रैन बसेरों में तब्दील कर दें। जो पैदल दूरी तय कर रहे हैं ऐसे लोगों को इन्हीं में रोक कर इनके रहने खाने का इंतजाम किया जाए।

     जो यात्री रास्ते में फंसे है उनको तत्काल घर पहुंचाने की व्यवस्था हो। समाजवादी पेंशन, मनरेगा, किसान सम्मान राशि के पंजीकृत खातों में तुरन्त पैसा जमा करायें। बैंक प्रतिनिधियों को सुरक्षा देकर घर-घर पैसा पहुंचाने की व्यवस्था हो। मोबाइल दुकानों से राशन का वितरण हो। गुजरात में ईंट-भट्ठे के मजदूर फंस गए हैं उन पर ध्यान दें।


Popular posts
सीकर मे पचपन किलोमीटर पैदल यात्रा करके मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। - निकाली गई मुख्यमंत्री गहलोत की शव यात्रा (जनाजा यात्रा) क्षेत्र मे चर्चा का विषय बनी।
चित्र
बेरीस्टर असदुद्दीन आवेसी को महेश जोशी द्वारा भाजपा ऐजेंट बताने की कायमखानी ने कड़ी निंदा की।
राजस्थान की राजनीति मे कांग्रेस-भाजपा के अतिरिक्त आगामी विधानसभा चुनावों मे तीसरे विकल्प की सम्भावना बनती दिखाई दे रही है। - कोटा नगर निगम चुनाव मे वेलफेयर पार्टी व एसडीपीआई के उम्मीदवार विजयी होने से हलचल।
जुलाई-19 मे मदरसा पैराटीचर्स के जयपुर मे चले बडे आंदोलन की तरह दांडी यात्रा का परिणाम आया।
चित्र
एआईएमआईएम के राजस्थान आने से पहले कांग्रेस नेताओं मे बोखलाहट। राजस्थान मीडिया मे आवेसी को लेकर बहस व लेख लिखने शुरु।
चित्र