सड़क निर्माण का विरोध, ग्रामीण की हत्या

रायपुर, ::  छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित कांकेर जिले में नक्सलियों ने सड़क निर्माण कंपनी के कर्मचारी की हत्या कर दी।


कांकेर जिले के पुलिस अधीक्षक भोजराज पटेल ने शुक्रवार को ‘भाषा’ को दूरभाष पर बताया कि जिले के परतापुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत कटगांव गांव में नक्सलियों ने जगदीश मंडल (लगभग 35 वर्ष) की हत्या कर दी।


पटेल ने बताया, ‘‘पुलिस को सूचना मिली थी कि बृहस्पतिवार शाम हथियारबंद नक्सली कटगांव पहुंचे और उन्होंने वहां बनने वाली सड़क का विरोध किया। बाद में नक्सलियों ने सड़क निर्माण करने वाली कंपनी के कर्मचारी मंडल की हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद नक्सली वहां से फरार हो गए।’’


पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद घटनास्थल के लिए पुलिस दल रवाना किया गया। पुलिस दल ने शव को बरामद कर लिया है तथा उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस ने शव के करीब से एक पर्चा भी बरामद किया है जिसमें नक्सलियों ने सड़क और पुल निर्माण का विरोध किया है।


पुलिस अधीक्षक ने बताया, ‘‘जिले के कोयलीबेड़ा से परतापुर गांव के मध्य सड़क निर्माण होना है तथा क्षेत्र में बहने वाली बालेर नदी तथा मेंडकी नदी में पुल बनना है। नक्सली इस निर्माण कार्य का विरोध कर रहे हैं।’’


पटेल ने बताया कि निर्माण कार्य करने वाली कंपनी ने निर्माण कार्य के लिए ग्रामीणों की भर्ती की है तथा कटगांव निवासी मंडल की नियुक्ति मुंशी के रूप में की गई थी।


उन्होंने बताया कि पुलिस ने क्षेत्र में निर्माण कार्य करने वाले ठेकेदारों से कहा है कि वह बगैर सुरक्षा के कार्य नहीं करें।


पुलिस दल ने क्षेत्र में हमलावर नक्सलियों की खोज शुरू कर दी है।


टिप्पणियाँ
Popular posts
एसीबी सीकर चौकी ने लगातार दुसरे दिन कार्यवाही करके रिश्वत लेते दो भ्रष्टाचारी को अलग अलग मामलों मे रंगे हाथ गिरफ्तार किया।
चित्र
राजस्थान कांग्रेस मे हालात विस्फोटक स्थिति मे पहुंचते नजर आ रहे है।। - गहलोत-पायलट खेमे के मध्य जारी टकराव व एक दुसरे पर दवाब बनाने के चक्कर मे सरकार गिर भी सकती है
चित्र
कोरोना अवेयरनेस कैंप के साथ शिफा होमियोपैथी क्लिनिक की इब्तिदा
चित्र
राजस्थान मे मंत्रीमंडल विस्तार व राजनीतिक नियुक्तियों की सुगबुगाहट के मध्य दिग्गज किसान नेता पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी नारायण सिंह भी कुदे। जारी राजनीतिक घमासान के बीच चोधरी ने कहा कांग्रेस को सत्ता में लाने वाले कार्यकर्ताओं को सरकार में मिले जगह।
चित्र
राजस्थान मे तीसरा मजबूत विकल्प अगले आम चुनाव से पहले उभर सकता है। - मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा सेवानिवृत्त ब्यूरोक्रेट्स को लाभ के पदो पर लगातार नियुक्ति देने का सीलसीला बनाये रखने से इंतजार मे बैठे जनप्रतिनिधियों का सब्र जवाब देने लगा।
चित्र