प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत अस्पताल

प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (पीएमएसएसवाई) का लक्ष्य सामान्य रूप से देश के विभिन्न हिस्सों में किफायती स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता में असंतुलन को ठीक करना है, और विशेष रूप से, वंचित राज्यों में गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा शिक्षा के लिए सुविधाओं में वृद्धि करना है। केंद्रीय क्षेत्र योजना पीएमएसएसवाई के दो घटक हैं - एम्स जैसी संस्थाओं का गठन और चरणबद्ध तरीके से वर्तमान सरकारी चिकित्सा महाविद्यालयों/संस्थानों का उन्नयन करना।


पीएमएसएसवाई के तहत, राजस्थान में चार (4) वर्तमान सरकारी चिकित्सा महाविद्यालयों  का उन्नयन के लिए चयन किया गया है। इन परियोजनाओं और इन परियोजनाओं के लिए जारी निधियों का विवरण नीचे दिया गया है:


राजस्थान में पीएमएसएसवाई के तहत परियोजनाओं का विवरण


 









































क्र.सं.



राजस्थान में पीएमएसएसवाई के तहत परियोजनाए



चरण



परियोजना के लिए अनुमोदित परिव्यय



जारी केन्द्रीय हिस्सा


(करोड़ रुपये में)



1



एसपी चिकित्सा महाविद्यालय, बीकानेर का उन्नयन



चरण-III



रुपये 150 करोड़ रु (केंद्रीय हिस्सा: 120 करोड़ रुपये; राज्य हिस्सेदारी: 30 करोड़ रुपये)



104.65



2



सरकारी चिकित्सा महाविद्यालय, कोटा का उन्नयन



चरण-III



रुपये 150 करोड़ रु


(केंद्रीय हिस्सा: 120 करोड़ रुपये; राज्य हिस्सेदारी: 30 करोड़ रुपये)



91.38



3



आरएनटी  चिकित्सा महाविद्यालय, उदयपुर का उन्नयन



चरण-III



रुपये 159 करोड़ रु


(केंद्रीय हिस्सा: 120 करोड़ रुपये; राज्य हिस्सेदारी: 39 करोड़ रुपये)



101.68



4



सरकारी  चिकित्सा महाविद्यालय, जयपुर  का उन्नयन



चरण-IV



रुपये 200 करोड़ रु


(केंद्रीय हिस्सा: 120 करोड़ रुपये; राज्य हिस्सेदारी: 80 करोड़ रुपये)



82.43



 


 


उपरोक्त के अलावा, 820 करोड़ रुपये की स्वीकृत लागत पर एम्स, जोधपुर को पीएमएसएसवाई के तहत स्थापित किया गया है।


प्रशासनिक और वर्तमान खर्चों के लिए, एम्स जोधपुर हेतु अब तक जारी निधियों का विवरण नीचे दिया गया है:


सहायता अनुदान (सामान्य) – रु. 438.78 करोड़


सहायता अनुदान (पूंजी) – रु. 462.10 करोड़


सहायता अनुदान (सामान्य) – रु. 474.93 करोड़


राज्य मंत्री (स्वास्थ्य और परिवार कल्याण)  अश्विनी कुमार चौबे ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी।


***


 



टिप्पणियां
Popular posts
राजस्थान मे ब्यूरोक्रेसी मे बडा फेरबदल -- सड़सठ भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के तबादले। - जाकीर हुसैन को श्रीगंगानगर जिला कलेक्टर के पद पर लगाया।
इमेज
मेडिकल व इंजीनियरिंग की प्रतियोगिता परीक्षा की कोचिंग करने वालो का आनलाइन डाटा तैयार किया जायेगा।
इमेज
इंशाअल्लाह सीकर से सर सैयद अहमद खां वाहिद चोहान जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से हमारे मध्य लोटकर फिर महिला शिक्षा को ऊंचाई देगे।
इमेज
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
शेखावाटी जनपद के मुस्लिम समुदाय मे बहती अलग अलग धाराऐ युवाओं को किधर ले जायेगी!
इमेज