कच्चातेल वायदा कीमत 56 रुपये की गिरावट के साथ 3,588 रुपये प्रति बैरल

नयी दिल्ली,  :: विदेशों में कमजोरी के रुख के अनुररूप सटोरियों ने अपने सौदों के आकार को कम किया जिससे बुधवार को वायदा बाजार में कच्चा तेल का भाव 1.54 प्रतिशत की गिरावट के साथ 3,588 रुपये प्रति बैरल रह गया।


मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में मार्च महीने की डिलिवरी वाले कच्चा तेल का भाव 56 रुपये यानी 1.54 प्रतिशत की गिरावट के साथ 3,588 रुपये प्रति बैरल रह गया। इसमें 68,629 लॉट के लिये कारोबार हुआ।


इसी तरह अप्रैल महीने में डिलिवरी वाले अनुबंध का भाव 57 रुपये यानी 1.55 प्रतिशत की तेजी के साथ 3,615 रुपये प्रति बैरल रह गया। इसमें 1,097 लॉट के लिये कारोबार हुआ।


बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कमजोर मांग के कारण कारोबारियों द्वारा अपने सौदों की कटान करने से वायदा कारोबार में कच्चा तेल कीमतों में गिरावट आई।


वैश्विक स्तर पर, न्यूयॉर्क में वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट की कीमत 0.20 प्रतिशत की हानि के साथ 49.80 डॉलर प्रति बैरल रह गयी। जबकि ब्रेंट क्रूड की कीमत 0.38 प्रतिशत घटकर 54.74 डॉलर प्रति बैरल रह गया। 


टिप्पणियाँ
Popular posts
कोराना काल के कारण 48 वीं बार में 10वीं पास हुए 85 साल के शिवचरण यादव।
चित्र
कोविड से माता-पिता को खोने वाले बच्चों के लिये सीएलसी के निदेशक इंजीनियर श्रवण चोधरी द्वारा मुफ्त शिक्षा के साथ रहना व खाना देने की पहल की चारो तरफ प्रशंसा हो रही है।
शेखावाटी जनपद के तीनो जिलो के अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों की सक्रियता व विभाग की उदारता के चलते जनपद के अनेक प्रोजेक्ट के लिये अल्पसंख्यक मंत्रालय ने राशि स्वीकृत की।
सीकर सीमा क्षेत्र में धारा 144 लागू शुक्रवार सायं 5 बजे से सोमवार प्रातः 5 बजे तक जन अनुशासन वीकेड कर्फ्यू रहेगा लॉकडाउन के दौरान (अनुमत श्रेणी के अलावा) किसी भी स्थान पर 5 या 5 से अधिक व्यक्तियों का एकत्रित होना प्रतिबंधित रहेगा
आसमान छुती पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती किमतो के खिलाफ कांग्रेस ने राजस्थान मे प्रदर्शन किया।
चित्र