जनवरी में स्वर्ण ईटीएफ में 200 करोड़ रुपये का निवेश, सात साल में सबसे अधिक

नयी दिल्ली, ::  स्वर्ण एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) में जनवरी में शुद्ध निवेश 200 करोड़ रुपये रहा है। यह सात साल का सबसे ऊंचा स्तर है। दुनिया के विभिन्न हिस्सों में उभरे भू-राजनीतिक तनाव और वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुस्ती को देखते हुये निवेशक सुरक्षित विकल्पों की ओर रुख कर रहे हैं।


यह लगातार तीसरा महीना रहा जबकि स्वर्ण ईटीएफ में शुद्ध निवेश आया है।


एसोसिएशन आफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के आंकड़ों के अनुसार जनवरी में स्वर्ण ईटीएफ में 202 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश हुआ। इससे पिछले महीने यह निवेश 27 करोड़ रुपये रहा था।


नवंबर में इसमें 7.68 करोड़ रुपये का निवेश हुआ था। हालांकि, अक्टूबर में स्वर्ण ईटीएफ से 31.45 करोड़ रुपये की निकासी की गई थी। सितंबर में इन कोषों में 44 करोड़ रुपये और अगस्त में 145 करोड़ रुपये का निवेश हुआ था।


स्वर्ण ईटीएफ में ताजा मासिक निवेश दिसंबर, 2012 के बाद का सबसे ऊंचा स्तर है। उस समय इसमें 474 करोड़ रुपये का निवेश हुआ था।


मॉर्निंगस्टार इन्वेस्टमेंट एडवाइजर इंडिया के वरिष्ठ शोध विश्लेषक हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा,‘‘स्वर्ण ईटीएफ में जनवरी में निवेश का प्रवाह काफी मजबूत रहा। दिसंबर के 27 करोड़ रुपये की तुलना में यह काफी अधिक है। दुनिया के विभिन्न हिस्सों में भू राजनीतिक तलाव और वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुस्ती की वजह से निवेशक सोने जैसे निवेश के सुरक्षित विकल्पों की ओर रुख कर रहे हैं।’’ 


टिप्पणियाँ
Popular posts
कोराना काल के कारण 48 वीं बार में 10वीं पास हुए 85 साल के शिवचरण यादव।
चित्र
कोविड से माता-पिता को खोने वाले बच्चों के लिये सीएलसी के निदेशक इंजीनियर श्रवण चोधरी द्वारा मुफ्त शिक्षा के साथ रहना व खाना देने की पहल की चारो तरफ प्रशंसा हो रही है।
धोद विधायक परशराम मोरदिया मंत्रीमंडल विस्तार मे मंत्री बनाये जा सकते है।
चित्र
शेखावाटी जनपद के तीनो जिलो के अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों की सक्रियता व विभाग की उदारता के चलते जनपद के अनेक प्रोजेक्ट के लिये अल्पसंख्यक मंत्रालय ने राशि स्वीकृत की।
सीकर सीमा क्षेत्र में धारा 144 लागू शुक्रवार सायं 5 बजे से सोमवार प्रातः 5 बजे तक जन अनुशासन वीकेड कर्फ्यू रहेगा लॉकडाउन के दौरान (अनुमत श्रेणी के अलावा) किसी भी स्थान पर 5 या 5 से अधिक व्यक्तियों का एकत्रित होना प्रतिबंधित रहेगा