सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

भारत..अमेरिका साझेदारी पर ट्रंप मोदी के बीच व्यापक वार्ता होगी

नयी दिल्ली, :: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच मंगलवार को व्यापक बातचीत होगी और इस दौरान दोनों नेताओं का उद्देश्य भारत..अमेरिका वैश्विक साझेदारी को विस्तार देना होगा। दोनों नेताओं ने सोमवार को एकदूसरे की प्रशंसा की और दोनों लोकतांत्रिक देशों के लोगों के लिए एक बेहतर भविष्य के प्रति प्रतिबद्धता जतायी।


अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में आयोजित ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति ने घोषणा की कि तीन अरब डॉलर कीमत के अत्याधुनिक सैन्य हेलीकाप्टर और अन्य उपकरणों के लिए मंगलवार को समझौते किये जाएंगे।


ट्रंप के साथ उनकी पत्नी मेलानिया ट्रंप, पुत्री इवांका, दामाद जारेड कुश्नर और उनके प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी आये हुए हैं। ट्रंप करीब 36 घंटे की भारत यात्रा के लिए सोमवार दोपहर में अहमदाबाद पहुंचे।


ट्रंप के सम्मान में विश्व के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम ‘मोटेरा स्टेडियम’ में ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्रधानमंत्री मोदी ने कार्यक्रम में जब ट्रंप को संबोधन के लिए बुलाया तो हजारों लोगों की भीड़ ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया।


ट्रंप ने कहा, ‘‘हम आपसे प्यार करते हैं। भारत हम आपको बहुत प्यार करते हैं।’’ ट्रंप ने अपने 27 मिनट के भाषण में मोदी की प्रशंसा की और विविध क्षेत्रों में भारत की उपलब्धियों की चर्चा की।


उन्होंने दोनों देशों के बीच रक्षा और रणनीतिक संबंधों के बारे में कहा कि अमेरिका भारत को दुनिया के कुछ सर्वश्रेष्ठ और कुछ शानदार सैन्य उपकरण उपलब्ध कराने को लेकर उत्सुक है।


ट्रंप ने कहा, ‘‘हम अब तक के कुछ महान उपकरण बनाते हैं: विमान, मिसाइलें, रॉकेट, पोत। हम सर्वश्रेष्ठ बनाते हैं। हम अब भारत के साथ सौदा कर रहे हैं। यद्यपि इसमें उन्नत वायु रक्षा प्रणाली और सशस्त्र और बिना शस्त्र वाले एरियल व्हीकल शामिल हैं।’’


ट्रंप द्वारा उल्लेखित सौदे में भारत द्वारा अमेरिका से 24 एमएच..60 रोमियो हेलीकाप्टर की 2.6 अरब अमेरिकी डालर में खरीद शामिल है। इसके अलावा एक अन्य सौदा छह एएच..64 ई अपाचे हेलीकाप्टर को लेकर है जो अमेरिका से 80 करोड़ डालर का होगा।


ट्रंप ने कहा, ‘‘मुझे यह घोषणा करते हुए प्रसन्नता हो रही है कि हमारे प्रतिनिधि कल तीन अरब अमेरिकी डालर कीमत के सौदों पर हस्ताक्षर करेंगे जो भारतीय सैन्य बलों के लिए सबसे अच्छा, अत्याधुनिक सैन्य हेलीकॉप्टर और अन्य उपकरण का होगा।’’


मोदी और ट्रंप के बीच मंगलवार को होने वाली यह वार्ता इस क्षेत्र और इससे इतर भू राजनीतिक घटनाक्रमों को लेकर भारत और अमेरिका के बीच हितों की बढ़ती एकरूपता का स्पष्ट संदेश देगी, खासतौर पर तब जब चीन अपने सैन्य और आर्थिक दायरे को बढ़ा रहा है।


हालांकि इस वार्ता से व्यापार शुल्क जैसे मुद्दों के हल के वास्ते परिणाम उत्पन्न होने की संभावना नहीं है।


भारतीय और अमेरिकी अधिकारियों के अनुसार ट्रंप और मोदी के बीच होने वाली वार्ता में दोनों नेताओं द्वारा विभिन्न द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर ध्यान केंद्रित किये जाने की उम्मीद है। इनमें व्यापार और निवेश, रक्षा एवं प्रतिरक्षा, धार्मिक स्वतंत्रता, अफगानिस्तान में तालिबान के साथ प्रस्तावित शांति समझौता तथा हिंद प्रशांत क्षेत्र में स्थिति, शामिल होने की उम्मीद है।


गुरुवार को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि ट्रंप की यात्रा के दौरान बौद्धिक सम्पदा अधिकार के क्षेत्रों में सहयोग, व्यापार सुगमता और गृह सुरक्षा से संबंधित पांच समझौतों को अंतिम रूप दिये जाने की उम्मीद है।


ट्रंप ने आर्थिक संबंधों के बारे में कहा, ‘‘मेरी इस यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री मोदी और मैं हमारे दोनों देशों के बीच आर्थिक संबंध विस्तारित करने के हमारे प्रयासों पर भी चर्चा करेंगे।’’


मोटेरा स्टेडियम में कार्यक्रम में ट्रंप ने कहा, ‘‘हम बड़े व्यापार सौदों में से एक करेंगे। हम अमेरिका और भारत के बीच निवेश की बाधाओं को कम करने के लिए एक अविश्वसनीय व्यापार समझौते के लिए चर्चा के शुरुआती चरण में हैं।’’


ट्रंप ने कहा, ‘‘मैं इसको लेकर आशावादी हूं कि एकसाथ काम करते हुए प्रधानमंत्री मोदी और मैं अपने दोनों देशों के लिए शानदार और बेहतरीन प्रदर्शन कर सकते हैं।’’


कुमार ने पिछले सप्ताह कहा था कि भारत ‘‘कृत्रिम समयसीमा’’ नहीं बनाना चाहता है। अमेरिका भारत के विशाल कुक्कुट और डेयरी बाजारों तक अधिक पहुंच की मांग कर रहा है। हालाँकि, भारत की इस पर कुछ आपत्तियां हैं।


ट्रंप ने अपने संबोधन में कहा कि मोदी भारतीय गणराज्य के एक अत्यंत सफल नेता हैं।


ट्रंप ने कहा, ‘‘पिछले साल, 60 करोड़ से अधिक लोगों ने चुनावों में मतदान किया और उन्हें चुनाव में शानदार जीत दिलायी।’’


मोदी ने अपने भाषण में ट्रंप की भी तारीफ की।


अहमदाबाद से, अमेरिकी राष्ट्रपति ताजमहल के दीदार के लिए आगरा रवाना हुए। ट्रंप परिवार ने सूर्यास्त से पहले ताजमहल में लगभग एक घंटा बिताया। वे आगरा से शाम लगभग 7:30 बजे दिल्ली पहुंचे।


25 फरवरी की सुबह ट्रंप और मेलानिया ट्रंप का राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में एक औपचारिक स्वागत किया जाएगा। वहां से वे महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देने के लिए उनकी ‘समाधि’ राजघाट जाएंगे।


इसके बाद हैदराबाद हाउस में ट्रंप और मोदी के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता होगी।


प्रधानमंत्री मोदी वार्ता के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए दोपहर का भोज देंगे।


दोपहर में, ट्रंप के अमेरिकी दूतावास में कुछ निजी कार्यक्रमों में शामिल होने की उम्मीद है। इसमें उद्योग प्रतिनिधियों के साथ एक गोलमेज सम्मेलन भी शामिल हो सकता है।


शाम में ट्रंप राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगे।


कोविंद द्वारा रात्रिभोज दिया जाएगा। ट्रंप मंगलवार को बाद में भारत से प्रस्थान करेंगे। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

वक्फबोर्ड चैयरमैन डा.खानू की कोशिशों से अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये जमीन आवंटन का आदेश जारी।

         ।अशफाक कायमखानी। चूरु।राजस्थान।              राज्य सरकार द्वारा चूरु शहर स्थित अल्पसंख्यक छात्रावास के लिये बजट आवंटित होने के बावजूद जमीन नही होने के कारण निर्माण का मामला काफी दिनो से अटके रहने के बाद डा.खानू खान की कोशिशों से जमीन आवंटन का आदेश जारी होने से चारो तरफ खुशी का आलम देखा जा रहा है।            स्थानीय नगरपरिषद ने जमीन आवंटन का प्रस्ताव बनाकर राज्य सरकार को भेजकर जमीन आवंटन करने का अनुरोध किया था। लेकिन राज्य सरकार द्वारा कार्यवाही मे देरी होने पर स्थानीय लोगो ने धरने प्रदर्शन किया था। उक्त लोगो ने वक्फ बोर्ड चैयरमैन डा.खानू खान से परिषद के प्रस्ताव को मंजूर करवा कर आदेश जारी करने का अनुरोध किया था। डा.खानू खान ने तत्परता दिखाते हुये भागदौड़ करके सरकार से जमीन आवंटन का आदेश आज जारी करवाने पर क्षेत्रवासी उनका आभार व्यक्त कर रहे है।  

आई.सी.एस.ई. तथा आई.एस.सी 2021 के घोषित हुए परीक्षा परिणामो में लखनऊ पब्लिक स्कूल ने पूरे जिले में अग्रणी स्थान बनाया

 आई.सी.एस.ई. तथा आई.एस.सी 2021 के घोषित हुए परीक्षा परिणामो में लखनऊ पब्लिक स्कूल ने पूरे जिले में अग्रणी स्थान बनाया। विद्यालय में इस सत्र में आई.सी.एस.ई. (कक्षा 10) तथा आई.एस.सी. (कक्षा 12) में कुल सम्मिलित छात्र-छात्राओं की संख्या क्रमशः 153 और 103 रही। विद्यालय का परीक्षाफल शत -प्रतिशत रहा। इस वर्ष कोरोना काल में परीक्षा परिणाम विगत पिछले परीक्षाओं के आकलन के आधार पर निर्धारित किए गए है ।  आई.सी.एस.ई. 2021 परीक्षा में स्वयं गर्ग ने 98% अंक लाकर प्रथम,  ऋषिका अग्रवाल  ने 97.6% अंक लाकर द्वितीय तथा वृंदा अग्रवाल ने 97.4% अंक लाकर तृतीय स्थान प्राप्त किया।   आई .एस.सी. 2021 परीक्षा में आयुष शर्मा  ने 98.5% अंक लाकर प्रथम, कुशाग्र पांडे ने 98.25% अंक लाकर द्वितीय तथा आरुषि अग्रवाल ने 97.75% अंक लाकर तृतीय स्थान प्राप्त किया।   उल्लेखनीय है कि आई.एस.सी. 2021 परीक्षा में इस वर्ष विद्यालय में 21 छात्रों ने तथा आई.सी.एस.ई.की परीक्षा में 48 छात्रों ने 90 प्रतिशत से भी अधिक अंक लाएं।   आई.सी.एस. 2021 परीक्षा में प्रथम आये आयुष शर्मा के पिता श्री श्याम जी शर्मा एक व्यापारी हैं । वह भविष्य में

नूआ का मुस्लिम परिवार जिसमे एक दर्जन से अधिक अधिकारी बने। तो झाड़ोद का दूसरा परिवार जिसमे अधिकारियों की लम्बी कतार

              ।अशफाक कायमखानी। जयपुर।             राजस्थान मे खासतौर पर देहाती परिवेश मे रहकर फौज-पुलिस व अन्य सेवाओं मे रहने के अलावा खेती पर निर्भर मुस्लिम समुदाय की कायमखानी बिरादरी के झूंझुनू जिले के नूआ व नागौर जिले के झाड़ोद गावं के दो परिवारों मे बडी तादाद मे अधिकारी देकर वतन की खिदमत अंजाम दे रहे है।            नूआ गावं के मरहूम लियाकत अली व झाड़ोद के जस्टिस भंवरु खा के परिवार को लम्बे अर्शे से अधिकारियो की खान के तौर पर प्रदेश मे पहचाना जाता है। जस्टिस भंवरु खा स्वयं राजस्थान के निवासी के तौर पर पहले न्यायीक सेवा मे चयनित होने वाले मुस्लिम थे। जो बाद मे राजस्थान हाईकोर्ट के जस्टिस पद से सेवानिवृत्त हुये। उनके दादा कप्तान महमदू खा रियासत काल मे केप्टन व पीता बक्सू खां पुलिस के आला अधिकारी से सेवानिवृत्त हुये। भंवरु के चाचा पुलिस अधिकारी सहित विभिन्न विभागों मे अधिकारी रहे। इनके भाई बहादुर खा व बख्तावर खान राजस्थान पुलिस सेवा के अधिकारी रहे है। जस्टिस भंवरु के पुत्र इकबाल खान व पूत्र वधु रश्मि वर्तमान मे भारतीय प्रशासनिक सेवा के IAS अधिकारी है।              इसी तरह नूआ गावं के मरह