आगरा पहुंचे ट्रम्प, हुआ भव्य स्वागत

आगरा, ::  अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उनकी पत्नी मेलानिया ट्रम्प सोमवार को ताजमहल का दीदार करने के लिए आगरा पहुंच गए। हवाई अड्डे पर अमेरिकी नेता का भव्य स्वागत किया गया, सैकड़ों कलाकारों ने ट्रम्प के स्वागत में उत्तर प्रदेश की समृद्ध संस्कृति को दर्शाते हुए शानदार प्रस्तुति दी।


उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खेरिया एयरबेस पर ट्रम्प की अगवानी की।


वह अहमदाबाद में मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ विशाल ‘नमस्ते ट्रम्प’ कार्यक्रम में भाग लेने के बाद यहां पहुंचे।


यहां लगे एक विशालकाय होर्डिंग में ट्रम्प, उनकी पत्नी मेलानिया ट्रम्प को प्रधानमंत्री मोदी की ओर से दिए गए एक स्वागत संदेश में लिखा हुआ है- ‘सिटी ऑफ लव’ आगरा में भारत के सबसे अच्छे दोस्त का भव्य स्वागत।’


ट्रम्प के एयरबेस पहुंचने पर, उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से आए 250 से अधिक कलाकारों ने ढोल, नगाड़े और मृदंग की मधुर ध्वनियों के बीच ‘मयूर नृत्य’, ‘राई लोक नृत्य’, ‘धोबिया लोक नृत्य’, ‘बमरसिया’ 'नृत्य प्रस्तुत किया, जिससे यहां उत्सव का माहौल बन गया।


भारी सुरक्षा तैनाती के बीच ट्रम्प के स्वागत के लिए पूरे आगरा शहर को सजा दिया गया है।


उनके काफिले के करीब 13 किलोमीटर लंबे रास्ते में बड़े पैमाने पर बधाई संदेश वाले होर्डिंग लगाए गए हैं, जबकि प्रमुख सड़क को अमेरिका और भारत के झंडों से सजाया गया है।


मार्ग के साथ, 21 नामित क्षेत्रों में 3,000 से अधिक कलाकार कृष्ण लीला जैसे ब्रज, अवध और अन्य क्षेत्रों के नृत्य भी प्रस्तुत करेंगे।


ट्रम्प का स्वागत करने के लिए 15,000 से अधिक स्कूली छात्र काफिले के मार्ग पर सड़कों के किनारे अमेरिका और भारत के झंडे पकड़े हुए कतार में खड़े थे।


सड़क किनारे लगे एक विशाल होर्डिंग में ट्रम्प और मोदी की तस्वीर के साथ लिखा हुआ है- ‘नमस्ते ट्रम्प: विश्व के सबसे पुराने लोकतंत्र की विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र से मुलाकात’।


टिप्पणियाँ
Popular posts
धोद विधायक परशराम मोरदिया मंत्रीमंडल विस्तार मे मंत्री बनाये जा सकते है।
चित्र
कायमखानी बिरादरी 14-जुन को दादा कायम खां दिवस पर प्रदेश भर मे जगह जगह रक्तदान शिविर लगा रही है।
चित्र
शेखावाटी जनपद के तीनो जिलो के अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों की सक्रियता व विभाग की उदारता के चलते जनपद के अनेक प्रोजेक्ट के लिये अल्पसंख्यक मंत्रालय ने राशि स्वीकृत की।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व सचिन पायलट के मध्य जारी सत्ता संघर्ष तेज हो सकता है। पायलट सत्ता संघर्ष के लिये ढाल ढाल तो गहलोत पत्ते पत्ते पर घूम रहे है।
चित्र
आसमान छुती पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती किमतो के खिलाफ कांग्रेस ने राजस्थान मे प्रदर्शन किया।
चित्र