भारत में कच्चे इस्पात का उत्पादन 2019 में 1.8 प्रतिशत बढ़कर 11.12 करोड़ टन रहा: रिपोर्ट

नयी दिल्ली, ::  देश में कच्चे इस्पात का उत्पादन 2019 में मामूली 1.8 प्रतिशत बढ़कर 11.12 करोड़ टन रहा। स्टील उत्पादकों का संगठन वर्ल्ड स्टील एसोसिएशन ने यह जानकारी दी।


रिपोर्ट के अनुसार देश में कच्चे इस्पात का उत्पादन 2018 में 10.93 करोड़ टन था।


इसमें कहा गया है, ‘‘भारत का कच्चे इस्पात का उत्पादन 2019 में 11.12 करोड़ टन रहा जो 2018 के मुकाबले 1.8 प्रतिशत अधिक है।’’ वहीं वैश्विक स्तर पर कच्चे इस्पात का उत्पादन 2019 में 186.99 करोड़ टन था जो 2018 के मुकाबले 3.4 प्रतिशत अधिक है।


पुन: रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले साल एशिया और पश्चिम एशिया को छोड़कर दुनिया के हर क्षेत्रों में कच्चे इस्पात का उत्पादन घटा है।


चीन में उत्पादन आलोच्य वर्ष में 8.3 प्रतिशत बढ़कर 99.63 करोड़ टन रहा। वैश्विक उत्पादन में चीन की हिस्सेदारी पिछले साल बढ़कर 53.3 प्रतिशत हो गयी जो इससे पूर्व 2018 में 50.9 प्रतिशत थी।


जापान में कच्चे इस्पात का उत्पादन आलोच्य वर्ष में 9.93 करोड़ टन रहा जो 2018 के मुकाबले 4.8 प्रतिशत कम है।


रिपोर्ट के अनुसार दक्षिण कोरिया में उत्पादन 2019 में 7.14 करोड़ टन रहा जो इससे पूर्व वर्ष के मुकाबले 1.4 प्रतिशत कम है।


टिप्पणियाँ
Popular posts
कोराना काल के कारण 48 वीं बार में 10वीं पास हुए 85 साल के शिवचरण यादव।
चित्र
कोविड से माता-पिता को खोने वाले बच्चों के लिये सीएलसी के निदेशक इंजीनियर श्रवण चोधरी द्वारा मुफ्त शिक्षा के साथ रहना व खाना देने की पहल की चारो तरफ प्रशंसा हो रही है।
शेखावाटी जनपद के तीनो जिलो के अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों की सक्रियता व विभाग की उदारता के चलते जनपद के अनेक प्रोजेक्ट के लिये अल्पसंख्यक मंत्रालय ने राशि स्वीकृत की।
सीकर सीमा क्षेत्र में धारा 144 लागू शुक्रवार सायं 5 बजे से सोमवार प्रातः 5 बजे तक जन अनुशासन वीकेड कर्फ्यू रहेगा लॉकडाउन के दौरान (अनुमत श्रेणी के अलावा) किसी भी स्थान पर 5 या 5 से अधिक व्यक्तियों का एकत्रित होना प्रतिबंधित रहेगा
आसमान छुती पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती किमतो के खिलाफ कांग्रेस ने राजस्थान मे प्रदर्शन किया।
चित्र