बजट सत्र में व्यवसायिक सुरक्षा, कामकाज की स्थिति संबंधी विधेयक के पारित होने की उम्मीद: गंगवार

नयी दिल्ली, ::  श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने मंगलवार को विश्वास व्यक्ति किया कि व्यवसायिक सुरक्षा, स्वास्थ्य और कामकाज की स्थिति (ओएसएच) संबंधी संहिता को आगामी बजट सत्र में संसद की मंजूरी मिल जायेगी।


खदानों की सुरक्षा पर आयोजित सम्मेलन के दौरान गंगवार ने संवददाताओं के साथ अलग से बातचीत में कहा, ‘‘हमें संसद की स्थायी समिति से ओएसएच संहिता वापस मिलने की पूरी उम्मीद है। इस पर 31 जनवरी से शुरू होने जा रहे संसद के बजट सत्र में विचार किये जाने और पारित होने की संभावना है।’’


हालांकि, मंत्री ने कहा कि श्रम मंत्रालय संसद के दोनों सदनों से पारित कराने को लेकर ओएसएच समेत तीनों संहिताओं को आगे बढ़ाएगा।


विभिन्न व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में कर्मचारियों की पेशेवर सुरक्षा, स्वास्थ्य और कामकाज की स्थिति पर तैयार विधेयक को संसद के बजट सत्र में मंजूरी मिलने की संभावना है। इस विधेयक को पिछले साल अक्टूबर में स्थायी समिति को भेज दिया गया था।


मंत्रालय यह उम्मीद कर रहा है कि समिति ओएसएच संहिता पर अपनी रिपोर्ट बजट सत्र के दौरान सौंप देगी। अगर इसमें कोई बड़े बदलाव का विचार नहीं किया गया तो इसे इस सत्र में पारित कराया जा सकता है। बजट सत्र अप्रैल के पहले सप्ताह तक चलेगा।


मंत्रालय ने दिसंबर में औद्योगिक संबंध संहिता 2019 और सामाजिक सुरक्षा संहिता को विचारार्थ संसद की स्थायी समिति के पास भेज दिया था। तीनों संहिताओं को पिछले साल लोकसभा में पेश किया गया और बाद में उसे विचार के लिये समिति के पास भेज दिया गया।


मजदूरी संहिता भी स्थायी समिति को भेजी जा चुकी है।


श्रम पर दूसरे राष्ट्रीय आयोग की सिफारिशों के अनुसार मंत्रालय मौजूदा 44 केंद्रीय श्रम कानूनों को संहिताबद्ध कर रहा है। मजदूरी संहिता को पिछले साल संसद ने मंजूरी दे दी। कानून का क्रियान्वयन संहिता के तहत नियम तैयार होने के बाद क्रियान्वित किया जाएगा। 


टिप्पणियां
Popular posts
इंशाअल्लाह सीकर से सर सैयद अहमद खां वाहिद चोहान जल्द स्वस्थ होकर अस्पताल से हमारे मध्य लोटकर फिर महिला शिक्षा को ऊंचाई देगे।
इमेज
राजस्थान मे ब्यूरोक्रेसी मे बडा फेरबदल -- सड़सठ भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों के तबादले। - जाकीर हुसैन को श्रीगंगानगर जिला कलेक्टर के पद पर लगाया।
इमेज
सरकारी स्तर पर महिला सशक्तिकरण के लिये मिलने वाले "महिला सशक्तिकरण अवार्ड" मे वाहिद चोहान मात्र वाहिद पुरुष। - वाहिद चोहान की शेक्षणिक जागृति के तहत बेटी पढाओ बेटी पढाओ का नारा पूर्ण रुप से क्षेत्र मे सफल माना जा रहा है।
इमेज
शेखावाटी जनपद के मुस्लिम समुदाय मे बहती अलग अलग धाराऐ युवाओं को किधर ले जायेगी!
इमेज
मेडिकल व इंजीनियरिंग की प्रतियोगिता परीक्षा की कोचिंग करने वालो का आनलाइन डाटा तैयार किया जायेगा।
इमेज