मनरेगा के श्रमिक द्वारा काम की मांग किये जाने पर उन्हें काम दिया जावें-- पी.सी किशन    -   वी.सी में समस्त मुख्यकार्यकारी अधिकारी, अधिशाषी अभियंताओं को दिये निर्देश 


सीकर ।
         मुख्य कार्यकारी अधिकारी जे.पी बुनकर ने बताया कि उप मुख्यमंत्री एवं ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री सचिन पायलेट की अध्यक्षता में वी.सी के माध्यम से शुक्रवार को समस्त जिलों के मुख्यकार्यकारी अधिकारी, अधिशाषी अभियंता, परियोजना अधिकारी लेखा, डीपीएम को राजीविका की ग्रामीण विकास एवं पंचायत राज की योजनाओं के बारे में निर्देश प्रदान किये गये। 
वी.सी में महात्मा गांधी नरेगा आयुक्त पी.सी किशन ने मनरेगा के श्रमिक द्वारा काम की मांग किये जाने पर श्रमिकों को शीघ्र काम दिये जाने के निर्देश दिये। मजदूरों को नोवल कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए कार्यस्थल पर सोशियल डिसटेंस की आवश्यक रूप से पालना करवाई जावें। श्रमिकों को कार्यस्थल पर पहुंचने पर भोजन से पूर्व-पश्चात व आते समय साबुन से हाथ धोने तथा चेहरे पर गमछा या मास्क लगाना, अलग-अलग चौकडी में काम करना जैसे आवश्यक निर्देशों से अवगत कराया जावे।  
            मुख्यकार्यकारी अधिकारी जे.पी बुनकर ने जिले की सभी पंचायत समितियों के विकास अधिकारियों को निर्देश दिये कि 30 मार्च 2020 को जारी नरेगा के दिर्नेशों की पालना एवं  संक्रमण से बचाव के लिए कार्यस्थल पर आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित करते हुए श्रमिकों का नियोजन, प्रधानमंत्री आवास कार्य, व्यक्तिगत कार्यो एवं चारागाह, वृक्षारोपण, वाटरशैड के कार्यो,  जल संरक्षण के कार्यां को प्राथमिकता से करें। उन्होंने समस्त विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि ग्राम पंचायत व पंचायत समिति भवन एवं सार्वजनिक स्थानों पर समय-समय पर हाइपो क्लोराईड का स्प्रे एवं सेनेटाइजेशन का कार्य करवायें। गांवों के सर्वे अनुसार भूख से पीड़ित परिवारों को फूड पैकेट, राहत सामग्री उपलब्ध करवायें तथा इस बात का ध्यान रखें कि किसी भी स्तर पर इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरते। प्रत्येक ग्राम पंचायत व पंचायत समिति स्तर पर आवश्यक सुविधाओं के साथ एक-एक कन्ट्रोल रूम स्थापित किया जावें जो संक्रमण बचाव की हर पल की रिपोर्ट लेकर उच्च स्तर पर अवगत करवाते रहें।


टिप्पणियां